Breaking News

राजनाथ ने पाक को उसके घर में लताड़ा: न हाथ मिलाया, न खाना खाया; तिलमिलाए PAK ने सेंसर की स्पीच

rajnath

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में होम मिनिस्टर्स के सार्क कॉन्फ्रेंस में सिर्फ तल्खी ही देखने को मिली। गुरुवार को प्रोग्राम शुरू हुआ तो वहां भारत-पाक के होम मिनिस्टर्स आमने-सामने तो हुए, पर फॉर्मल हैंडशेक तक नहीं किया। प्रोग्राम में राजनाथ की स्पीच के टेलिकास्ट पर पाकिस्तान ने रोक लगा दी। इसके बाद चौधरी निसार अली खान की ओर से दिए गए लंच का राजनाथ ने बहिष्कार कर दिया। वे अब दिल्ली लौट रहे हैं। इससे पहले राजनाथ ने आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान का नाम लिए बिना जमकर निशाना साधा। राजनाथ के भाषण को मीडिया को कवर नहीं करने दिया गया। देसी या विदेशी मीडिया को इसकी इजाजत नहीं दी गई थी।

राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान आतंकियों को लंबे समय से पनाह दे रहा है। कहा जा रहा इस कॉन्फ्रेंस में राजनाथ की स्पीच से पाकिस्तान काफी असहज हो गया। अफगानिस्तान के विदेश मंत्री ने भी आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान को घेरा। सिंह ने दो टूक कहा कि आतंकवाद अच्छा और बुरा नहीं होता। उन्होंने कहा कि आतंकवाद को हम कोई रंग नहीं दे सकते।

भारतीय गृह मंत्री ने पूछा कि आतंकवाद का कोई महिमामंडन कैसे कर सकता है? ऐसा कह राजनाथ ने बुरहान वानी को शहीद बताने का भी करारा जवाब दे दिया है। राजानाथ सिंह ने अफगानिस्तान और बांग्लादेश में भी आतंकी हमलों का जिक्र किया।

भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में जारी तनाव सार्क के गृह मंत्रियों के सम्मेलन में उस समय साफ तौर पर देखने को मिला जब गृहमंत्री राजनाथ सिंह का अपने पाकिस्तानी समकक्ष चौधरी निसार अली खान से आमना-सामना हुआ। दोनों नेताओं ने बमुश्किल ही एक-दूसरे से हाथ मिलाए। जब सिंह सेरेना होटल में आयोजित सम्मेलन में पहुंचे तो खान वहां पदाधिकारियों का स्वागत करने के लिए दरवाजे पर ही खड़े थे।