Breaking News

गुस्से में है पैंथर, स्वभाव के विपरीत कर रहा हरकतें

राजसमंद.

केस 1 

नराणा पंचायत के रान में 2 अगस्त को एक घर में घुसकर पैंथर ने 10 बकरों को मार दिया। आधा दर्जन को घायल कर दिया। जो बकरे मरे सभी के पंजे व दांतों के निशान लगे थे। यहां लगभग 25 बकरे बांधे थे।

केस 2 

कुंवारिया क्षेत्र के पीपला स्थित चौपाला का भीलवाड़ा बस्ती में 3 अगस्त को बाड़े मेंं बंधी छह बकरियों को पैंथर ने मार डाला। इसमें से अधिकतर बकरियों के पंजे और दांत के निशान लगे मिले।

केस 3

भीम उपखण्ड के कूकरखेड़ा ग्राम पंचायत अंतर्गत पावटिया ग्राम में 6 अगस्त शाम को पैंथर ने एक बाड़े में घुसकर 8 बकरियों को मार दिया एवं 5 अन्य बकरियों पर हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया।

पिछले एक सप्ताह में अलग-अलग क्षेत्रों में पैंथर ने बाड़ों में घुसकर दर्जनों मवेशियों का शिकार किया है। इसमें ज्यादातर भेड़-बकरियां हैं। हैरानी वाली बात यह है कि शिकार करने के बाद पैंथर ने उन्हें खाया नहीं है, बस मार दिया है। पैंथर के इस स्वभाव को विशेषज्ञ भी अप्रकृतिक मानते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि जहां ऐसी घटनाएं हो रही हैं, वहां मौके पर तथा क्षेत्र के जंगल के हालातों की जांच की जाए तो ही किसी ठोस निर्णय पर पहुंचा जा सकता है क्योंकि यह घटनाएं पैंथर स्वभाव से हटकर हैं।