Breaking News

उदयपुर कलेक्टर की अभिनव पहल : हर रविवार जुटते है श्रमदान में

झाट वाड़ी घाट, इमली घाट क्षेत्र में झील से भारी मात्रा में गंदगी,मलबा और कूड़ा करकट निकाला

Jheel Sanrakshan Samiti

उदयपुर। जिला कलेक्टर रोहित गुप्ता , निगम आयुक्त सिद्धार्थ सिहाग तथा प्रन्यास सचिव रामनिवास मेहता के नेतृत्व में रोटरी क्लब मेवाड़  के सदस्य रविवार को झील श्रमदान में जुटे तथा झाट वाड़ी घाट, इमली घाट क्षेत्र में झील से भारी मात्रा में गंदगी,मलबा और कूड़ा करकट निकाला। श्रमदान का आयोजन झील मित्र संस्थान, झील संरक्षण समिति , डॉ मोहन सिंह मेहता मेमोरियल ट्रस्ट,झील हितेषी मंच के साझे में किया गया।

इस दौरान घाटों को अलग अलग हिस्सों में बाँटने वाली दीवारो तथा सड़क तरफ की दिवार को ढहा दिया गया। अब दीवारो की आड़ में शौच विसर्जन तथा नशेड़ियों का जमावड़ा , नशीली दवाइयों का सेवन होना रुक  सकेगा। दीवार हटने के बाद यंहा सुन्दर जालियां  लगेगी ताकि झील का सुन्दर दृश्य नजर आए।

उल्लेखनीय है कि जिला कलेक्टर सहित नगर के आला अधिकारी विगत  दो महीने से अवकाश के दिन स्वयं श्रमदान में जुत रहे है। जिला कलेक्टर   सामाजिक , औद्योगिक, सांस्कृतिक सभी प्रकार के संघठनो को रविवार को झीलों पर बुला लेते है। जिला कलेक्टर लेक पेट्रोलिंग टीम को भी प्रभावी एवं ज्यादा क्रियाशील बना रहे है। झील प्रेमी डॉ अनिल मेहता , तेज शंकर पालीवाल, नन्द किशोर शर्मा तथा हाजी सरदार  मोहमद ने कहा कि इस से झील स्वच्छता के प्रति  एक प्रभावी जन जाग्रति आ रही है तथा कई समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण हो रहा है।

श्रमदान में निगम तथा प्रन्यास के अभियंता , कर्मचारियों, रोटरी सदस्यों  सहित मोहन सिंह,पल्लब दत्ता, रमेश राजपूत, ललित पुरोहित, हर्षुल, गरिमा,दीपेश, भावेश, रिधेश,  कमलेश पुरोहित, नूर मोहम्मद, दुर्गा शंकर डॉ अनिल मेहता , तेज शंकर पालीवाल, नन्द किशोर शर्मा एवं स्थानीय जागरूक नागरिको ने भाग लिया। पार्षद गरिमा पठान भी मौके पर पंहुची तथा आशवस्त किया कि स्वच्छता के प्रति जाग्रति के लिए हरसंभव प्रयास करती रहेगी। रोटरी क्लब मेवाड़ के संरक्षक हंसराज चौधरी ने कहा कि क्लब के सदस्य नियमित रूप से श्रमदान करेंगे। उन्होंने कहा कि क्लब घाट सौदर्यीकरण में भी मदद प्रदान करेगा तथा उपयुक्त स्थलो पर मार्बल बेंचे लगाएगा। चौधरी ने श्रमदान के लिए शोवेल , फावड़े, तगारियां भेंट करने की भी घोषणा की।

होटल मालिको की बुलाएँगे बैठक :  झील प्रेमियों ने अधिकारीयों को कतिपय होटलो द्वारा  झील एवं सीवर लाइनों  में  अवशेष शाकाहारी मांसाहारी भोज्य सामग्री, बचे खुचे डेली केअर प्रसाधन एवं अन्य कचरा विसर्जन को दिखाया। इस पर निर्णय लिया गया कि निगम आयुक्त शीघ्र ही होटल संचालको की बैठक बुला उन्हें निर्देश देंगे। उसके पश्चात उल्लंघन होने पर कठोर प्रशासनिक कार्यवाही की जायेगी।

तीरा मगरी का मौजूदा स्वरुप बना रहेगा : अधिकारीयों ने आश्वस्त किया कि पिछोला बीच के टापू तीरा मगरी का मौजूदा स्वरुप बना रहेगा ताकि देशी प्रवासी पक्षी रहवास तथा प्रजनन कर सके। तथा उनके प्राकृतिक आवास सुरक्षित रहें।